Saturday, October 16, 2021
Homeराजनीतिकिसान मोर्चे के 27 सितंबर को भारत बंद आह्वान के समर्थन में...

किसान मोर्चे के 27 सितंबर को भारत बंद आह्वान के समर्थन में पूर्वांचल नव निर्माण किसान मंच ने जनता से सहयोग हेतु किया अपील

अन्नदाता अपनी आवश्यक मांगों को लेकर पिछले 10 माह से सड़क पर है , वैसे भी उसका जीवन लगभग खुले आसमान के नीचे ही खेत में गुजर जाता है ।परन्तु दिल्ली में बैठी गूंगी बहरी सरकार द्वारा आन्दोलनरत किसानों की मांग को झुठला दिया जाना गलत है , आज महँगाई का दंश तथा अपने उत्पाद की उचित मुल्य पर बिक्री ना कर पाने के दंश झेल रहे किसानों में क्रयशक्ति का अभाव बढ़ता जा रहा है ।

सोनभद्र।पूर्वांचल नव निर्माण मंच ने जनपद के लोगों को खुला पत्र लिख कर 27 सितम्बर के भारत बंद के लिए जनता से अपील किया है।पत्र कुछ इस प्रकार है: जनपद के सम्मानित किसान , कामगार , कारोबारी तथा प्रबुद्धवर्ग के लोग, आप सभी लोगों का सदैव अभिवादन । खेद के साथ अवगत कराना है कि भारत सरकार की दोषपूर्ण कृषि नीतियों के करण आज देशभर के किसान अपनी जायज तथा जरुरी मांग ” दोषपूर्ण कृषि कानून की वापसी , तथा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कानूनन गारंटी कराने की मांग ” को लेकर आन्दोलनरत लगभग दस महीने से अपना काम काज त्याग कर सड़क पर है परंतु सरकार के अड़ियल रुख के कारण अभी तक आन्दोलन किसी समाधान पर नहीं पहुंच पाया।

यह बेहद दुखद है , अन्नदाता अपनी आवश्यक मांगों को लेकर सड़क पर है , वैसे भी उसका जीवन लगभग खुले आसमान के नीचे ही खेत में बीतता है । दिल्ली में आन्दोलनरत किसानों की मांग को झुठला दिया जाना गलत है ।आज महँगाई का दंश तथा अपने उत्पाद की उचित मुल्य पर बिक्री ना कर पाने के दंश से किसानों में क्रयशक्ति का अभाव बढ़ता जा रहा है । किसानों को सरकार द्वारा संरक्षित नहीं किया गया तो कृषि कार्य से पलायन बढ़ेगा जो भयंकर बेरोजगारी के रूप में देश के सामने एक नए संकट के रुप मे खड़ा हो जाएगा।जिसका प्रमाण आज ही स्थानीय बाजार की दुकानों पर काम करने वाले किसानों के बच्चों के रूप में देखा जा सकता है , पलायन शुरु है क्रमशः । जिसको रोकने के लिए तथा खेती बचाने के लिए संघर्षरत संयुक्त किसान मोर्चे ने 27 सितंबर को भारत बंद का आह्वान करते हुए देश वासियों से समर्थन मांगा है ।

हम पूर्वाचल नव निर्माण किसान मंच के किसानों ने भारत बंद का समर्थन करते हुए 27 सितंबर को बाजार का बहिष्कार करने का निर्णय लिया है । आन्दोलन को सफल बनाने के क्रम में आपके समर्थन तथा सहयोग की अपेक्षा है हम किसानों को । आपसे निवेदन है कि किसान हित में 27 सितंबर को किसानों के भारत बंद को सफल बनाने के लिए अपने – अपने कार्यों से विरत होकर तथा प्रतिष्ठानों को बंद करते हुए किसानों की जायज मांगों का समर्थन करें । साथ ही न्यायिक कार्य कर रहे विद्वान अधिवक्ता वर्ग के लोगों से भी निवेदन है कि 27 सितंबर को न्यायालय के कार्य का बहिष्कार कर आन्दोलन को सफलता तथा बल प्रदान करें ।

विशेष कार्य वर्ग खाद्य पदार्थ तथा औषधीय कारोबार के लोग काली पट्टी बांधकर काम करते हुए समर्थन दें । हमलोग कृषि कानून की वापसी तथा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कानूनन गारंटी की मांग के साथ सिंचाई हेतु डीजल तथा बिजली पर सब्सिडी तथा उत्तर प्रदेश में प्रति बीघा खरीद मात्रा बढ़ाने की मांग का समर्थन करेंगे । पूर्वांचल नव निर्माण किसान मंच के किसान , सोनभद्र जिलाप्रशासन के माध्यम से ज्ञापन देगा तथा किसान आन्दोलन को समाप्त कराने की मांग प्रमुखता से करेगा ।

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News