Saturday, October 16, 2021
Homeराज्यईंट लगी न सीमेंट ! तारीख बदलकर बना दिया शौचालय, यही है...

ईंट लगी न सीमेंट ! तारीख बदलकर बना दिया शौचालय, यही है बीजेपी का विकास : अखिलेश यादव

https://youtu.be/OmPf8rYqDjY

ईमानदार और निड़र पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें

यूपी विधानसभा चुनाव का विगुल बज चुका है । इस चुनावी समर में राजनीतिक गलियारे में एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है।

लखनऊ । यूपी विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपनी-अपनी रणनीति बना ली है. इस चुनावी समर में राजनीतिक गलियारे में एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. कोई भी राजनीतिक दल अपने प्रतिद्वंदी को नीचा दिखाने की कसर नहीं छोड़ रहा है. इसी क्रम में गुरुवार को सपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक बयान जारी कर बीजेपी और यूपी सरकार को निशाने पर लिया है ।

सपाध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा, कि भाजपा की राज्य सरकार हर मोर्चे पर पूरी तरह विफल है. यूपी की बीजेपी सरकार ने अपने वादे पूरे नहीं किए. बीजेपी की सरकार ने उत्तर प्रदेश को बदहाली और बर्बादी के कगार पर पहुंचा दिया है. सपाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा का दूसरा नाम ही घोटाला, धांधली और जालसाजी हो गया है. भाजपा ने राज्य की जनता को सिर्फ परेशानियां, मंहगाई और भ्रष्टाचार के उपहार दिए हैं।

आगामी विधानसभा चुनाव 2022 में उत्तर प्रदेश को नई सरकार मिलने का चुनाव होगा. बीजेपी की साढ़े चार साल की सरकार में जनता ने देखा है कि कैसे प्रदेश विकास और प्रगति में पीछे हुआ है. आज यूपी की जनता चाहती है कि प्रदेश में प्रोग्रेसिव पॉलिटिक्स हो और लोक कल्याणकारी सरकार सत्ता में आए.

बरेली की घटना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य व्यवस्था की बदहाली का एक नमूना बरेली जिले में देखने को मिला है. बरेली में एक बच्ची की डेंगू से मृत्यु होने पर स्वास्थ्य महकमा 6 दिन तक रिपोर्ट दबाए बैठा रहा. कोरोना की तरह डेंगू से हुई मौतों को भी प्रशासन दबाने पर तुला हुआ है. वाराणसी में बीएचयू अस्पताल में बेड न होने के कारण स्ट्रेचर पर इलाज हो रहा है.

अखिलेश यादव

अखिलेश यादव

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी के संकल्प पत्र में 24 घंटे बिजली के वादे और मुख्यमंत्री द्वारा वादा निभाने के झूठे दावे की हकीकत यह है कि पडरौना में 2 दिन से बिजली कटौती हो रही है. खीरी में जनता बिजली संकट से त्राहि-त्राहि कर रही है. राजधानी लखनऊ के कई इलाकों में भी बिजली-पानी की परेशानी है.

राज्य की सड़कों को गड्ढ़ा मुक्त करने के लिए किए गए बीजेपी के दावे की धज्जियां उड़ रहीं हैं. भाजपा सरकार में एक यूनिट बिजली का उत्पादन नहीं हुआ, बरेली-लखनऊ हाईवे और आरपीआरआई रोड पर गड्ढ़ों की वजह से गाड़ी से उछलकर 2 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई. ऐसी तमाम जगहों पर सड़कें टूटी-फूटी होने से दुर्घटनाएं हो रही हैं.

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा पहले ढिंढोरा पीटती है, फिर विज्ञापन में विकास का हल्ला मचाती है. उन्नाव में वर्ष 2018 में महिलाओं के लिए बने पिंक शौचालयों को कागजों में नया दिखाकर निर्माण वर्ष 2021 कर दिया गया है. ईंट लगी न सीमेंट बस बन गया शौचालय ।

यही है भाजपा का हवाई विकास. सच्चाई यही है, कि प्रदेश में भाजपा ने एक भी योजना को धरती पर नहीं उतारा है. समाजवादी पार्टी के कार्यों को ही अपना बताकर उसने साढ़े चार साल निकाल दिए. अब जनता वर्ष 2022 में भाजपा को ही निकालकर सत्ता से बाहर करेगी.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News