Saturday, October 16, 2021
Homeदेशकार तोड़ी, टमाटर फेंके…कपिल सिब्बल के घर के बाहर कांग्रेसियों के उपद्रव...

कार तोड़ी, टमाटर फेंके…कपिल सिब्बल के घर के बाहर कांग्रेसियों के उपद्रव पर राहुल-सोनिया की चुप्पी का क्या है मतलब?

ईमानदार और निड़र पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें

कांग्रेस के भीतर पार्टी नेतृत्व पर सवाल उठाना सही है या गलत। इस बात को लेकर कांग्रेस में ही दो फाड़ हो चुकी है। पार्टी आलाकमान पर सवाल उठाने वाले सिब्बल को घर पर हुए हमले के बाद से पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की चुप्पी को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं।

नई दिल्ली । पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्‍बल की तरफ से पार्टी आलाकमान पर सवाल उठाने को लेकर कांग्रेस में कलह खत्म नहीं हो रही है। आलाकमान पर सवाल उठाने के बाद उन्हें अपने ही नेताओं ने घेरना शुरू कर दिया। सिब्बल की ओर से पार्टी नेतृत्व पर सवाल खड़ा किये जाने के बाद पार्टी के कई कार्यकर्ताओं ने बुधवार को सिब्बल के आवास के बाहर प्रदर्शन किया और उनके खिलाफ नारेबाजी की।

इस पूरे मामले पर सोनिया गांधी और राहुल गांधी की चुप्पी को लेकर कांग्रेस के अंदर के साथ बाहर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। क्या सिब्बल के घर पर हमला करने वालों या उनकी बात का विरोध करने वालों के क्या शीर्ष नेतृत्व से समर्थन मिल रहा है?

मैं आहत और असहाय महसूस कर रहा हूं
पी. चिदंबरम ने कहा कि जब हम पार्टी मंचों के भीतर सार्थक बातचीत शुरू नहीं कर पाते हैं तो मैं असहाय महसूस करता हूं। जब मैं अपने एक सहयोगी और सांसद के आवास के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा नारे लगाते हुए तस्वीरें देखता हूं तो मैं भी आहत और असहाय महसूस करता हूं।

सोनिया गांधी को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए
पार्टी के एक अन्य वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने कहा कि कपिल सिब्बल के आवास के बाहर हुए पार्टी कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन की निंदा करते हुए कहा कि इस ‘उपद्रव’ में शामिल लोगों के खिलाफ पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘कपिल सिब्बल के घर पर हमला और उपद्रव के बारे में सुनकर स्तब्ध और आहत हूं। इस निंदनीय कृत्य से पार्टी की बदनामी होती है। इसकी कड़ी भर्त्सना की जानी चाहिए।

गीतकार जावेद अख्तर ने राहुल गांधी उठाए सवाल
कांग्रेस पार्टी की कार्य प्रक्रिया के बारे में राय व्यक्त करने के लिए कपिल सिब्बल के घर पर हमला करने वाले वही हैं जो अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर अंकुश लगाने के लिए मोदी सरकार की आलोचना करते हैं। क्या राहुल गांधी को इन गुंडों की कड़े शब्दों में निंदा नहीं करनी चाहिए?

यह गुंडागर्दी नहीं तो और क्या है
कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने भी सिब्बल के घर पर हुए हमले की निंदा की है। तिवारी ने ट्वीट कर लिखा सिब्बल के घर पर उनकी कार को क्षतिग्रस्त कर दिया। घर के अंदर टमाटर फेंके गए। यह गुंडागर्दी नहीं तो और क्या है ।

गद्दारों को पार्टी से बाहर निकालो के नारे
इससे सिब्बल के आवास के बाहर पहुंचे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हाथों में तख्तियां ले रखी थीं जिन पर ‘गेट वेल सून सिब्बल’ (सिब्बल आप जल्द स्वस्थ हों) लिखा हुआ था। उन्होंने ‘गद्दारों को पार्टी से बाहर निकालो’ के नारे भी लगाए। इतना ही नहीं सिब्बल के घर पर टमाटर भी फेंके गए। इतना नहीं उनकी कार भी तोड़ी गई।

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News