Saturday, July 31, 2021
Homeराज्यभाजपा विकास नहीं नफरत और झगड़ा फैलाने में लगी है- अखिलेश यादव

भाजपा विकास नहीं नफरत और झगड़ा फैलाने में लगी है- अखिलेश यादव

सपा प्रमुख व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक बार फिर से योगी सरकार पर हमला बोला है. सपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा विकास नहीं नफरत और झगड़ा फैलाने में लगी है.

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज एक बार फिर से भाजपा को निशाना बनाया. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी की अक्षमता का परिणाम है कि प्रदेश में रोजी-रोजगार नहीं है, विकास ठप्प है. भाजपा विकास नहीं नफरत और झगड़ा फैलाने में लगी है. किसानों का बुरा हाल है. भाजपा राज में डीजल-पेट्रोल के आसमान छूते भाव और बढ़ती मंहगाई से जनता त्रस्त है. खेती के काम आने वाली खाद, बीज, कीटनाशक सब मंहगे हैं. भाजपा ने 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था, लेकिन उसका दूर-दूर तक कुछ भी अता-पता नहीं है.

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पार्टी कार्यालय के डाॅ लोहिया सभागार में कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा- कोरोना संक्रमण काल में जनता को बीजेपी सरकार ने उनके हाल पर छोड़ दिया. दवा, इलाज और ऑक्सीजन के अभाव में तड़प-तड़प कर तमाम लोगों की जानें चली गईं. इसके लिए भाजपा सरकार जिम्मेदार है. समाजवादी सरकार बनने पर कोरोना में हुई मौतों के आंकड़े छुपाने वालों पर कार्रवाई होगी. दोषी अफसरों को चिह्नित किया जाएगा और डेथ ऑडिट भी कराएंगे.

‘भाजपा जैसी कोई दूसरी गुण्डा पार्टी नहीं’

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा जैसी कोई दूसरी गुण्डा पार्टी नहीं है. भाजपा ने अराजकता के जरिए जबरन जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख पदों पर कब्जा किया. मुख्यमंत्री के इशारे पर प्रशासन के साथ मिलकर गुण्डागर्दी की सभी हदें पार कर दी गई हैं. उत्तर प्रदेश में इस स्तर की गुंडागर्दी कभी नहीं हुई है. पंचायत के चुनावों में जनता ने समाजवादी पार्टी को समर्थन दिया, लेकिन भाजपा तथाकथित जश्न मना रही है.

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने कहा- जिला पंचायत के चुनावों में जनता ने समाजवादी पार्टी को समर्थन दिया. बड़ी संख्या में प्रधान और जिला पंचायत, क्षेत्र पंचायत के सदस्य समाजवादी पार्टी के जीते थे. भाजपा सरकार को जनादेश की परवाह नहीं. जानबूझकर रणनीति बनाकर योजनाबद्ध तरीके से परिणाम भाजपा के पक्ष में किया गया है. इसके लिए नामांकन पर्चे छीने गए, महिलाओं से दुर्व्यवहार हुआ. फर्जी केस लगा दिए गए. पत्रकार पिटे, एसपी, अधिकारी पिटे. सरकार बेपरवाह होकर तथाकथित जीत का जश्न मना रही है. बड़ी कुर्सी वाले लोकतंत्र की धज्जियां उड़ती देखकर भी योगी सरकार को बधाई दे रहे हैं.

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा- भाजपा ने अपने बनाए 2017 के संकल्प पत्र को कूड़ेदान में फेंक दिया है. किसान की आय दोगुनी करने का इसमें वादा है, पर उस सम्बंध में कोई ठोस योजना सामने नहीं आई है. उन्होंने कहा कि भाजपा जनता से बड़ी नहीं है. जनता अब बदलाव चाहती है. वह भाजपा को सत्ता से हटाकर ही दम लेगी. जनता ने भाजपा का अत्याचार देखा है. भाजपा ने लोकतंत्र के साथ छल किया है. जनता 2022 में पूरा हिसाब-किताब करेगी.

‘घटना की जांच के लिए बांदा जाएगा सपा प्रतिनिधिमंडल’

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देशानुसार व प्रदेश अध्यक्ष श्री नरेश उत्तम पटेल की संस्तुति पर सपा का एक प्रतिनिधिमंडल बांदा जाएगा. ये प्रतिनिधिमण्डल दीपक रैकवार के अपहरण की घटना और समाजवादी महिला सभा की नगर सचिव सुधा रैकवार की आत्महत्या की जानकारी लेने एवं पीड़ित परिवारों से मिलने 12 जुलाई को बांदा जाएगा. समाजवादी पार्टी के प्रतिनिधिमण्डल में डाॅ राजपाल कश्यप एम.एल.सी./प्रदेश अध्यक्ष पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ, दलजीत निषाद पूर्व जिलाध्यक्ष समाजवादी पार्टी फतेहपुर, पप्पू निषाद पूर्व महानगर अध्यक्ष प्रयागराज, शमीम बांदवी पूर्व जिलाध्यक्ष बांदा, हसन सिद्दीकी पूर्व प्रत्याशी बांदा सदर, विजय करन यादव जिलाध्यक्ष बांदा, मोहन साहू चेयरमैन नगर पालिका परिषद बांदा एवं दीपा गौर पूर्व प्रत्याशी तिन्दवारी बांदा शामिल हैं.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News