Friday, July 30, 2021
Homeब्रेकिंगना'पाक' मंसूबों पर फिरा पानी, पेशावर से हैंडल हो रहे थे यूपी...

ना’पाक’ मंसूबों पर फिरा पानी, पेशावर से हैंडल हो रहे थे यूपी में पकड़े गए आतंकी

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में यूपी एटीएस ने अलकायदा के दो आतंकियों को गिरफ्तार किया है. एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आतंकी पाकिस्तान के पेशावर से हैंडल किए जा रहे थे. इनका 15 अगस्त से पहले यूपी की राजधानी लखनऊ समते कई अन्य शहरों में बम धमाके करने का प्लान था.

लखनऊ । प्रदेश की राजधानी लखनऊ में यूपी एटीएस ने 2 आतंकियों को गिरफ्तार किया है. इन आतंकियों का संबंध अलकायदा के अंसार गजवतुल हिंद नाम के आतंकी संगठन से है. एटीएस की टीम ने काकोरी थाना क्षेत्र के दुबग्गा और मंडियांव थाना क्षेत्र के मोहिबुल्लापुर से दोनों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से एक प्रेशर कुकर बम, विस्फोटक और अन्य हथियार मिले हैं.

इस पूरी घटना को लेकर एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी. उन्होंने बताया कि यूपी एटीएस ने बड़े मॉड्यूल का पर्दाफाश किया है. अलकायदा के अंसार गजवतुल हिंद से जुड़े दो आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है. संदिग्ध आतंकियों के पास से विस्फोटक और असलहे बरामद किए गए हैं. एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आतंकी पाकिस्तान के पेशावर से हैंडल किए जा रहे थे. इनका 15 अगस्त से पहले यूपी की राजधानी लखनऊ समते कई अन्य शहरों में बम धमाके करने का प्लान था. ये आतंकी कई शहरों में ब्लास्ट करने की योजना बना रहे थे.

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि धमाके की योजना बनाने में मिनहाज अहमद पुत्र सिराज अहमद, निवासी दुबग्गा और मसीरुद्दीन पुत्र अमीनुद्दीन निवासी मोहिबुल्लापुर मुख्य भूमिका निभा रहे थे. इस आतंकी गिरोह में लखनऊ, कानपुर के इनके अन्य साथी भी शामिल हैं. इनके द्वारा उत्तर प्रदेश में मुख्यतः लखनऊ में कभी भी आतंकी घटना की जा सकती थी.

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि यूपी एटीएस को यह सूचना प्राप्त हुई कि आतंकवादी संगठन अलकायदा का एक सदस्य जिसका नाम उमर हलमंडी है, को संगठन द्वारा भारत में अलकायदा की आतंकवादी गतिविधियों को संचालित करने के निर्देश दिये गये थे. उमर हलमंडी पाकिस्तान, अफगानिस्तान बार्डर क्षेत्र से आतंकवादी गतिविधियां संचालित करता है. उक्त कार्य के लिये उमर हलमंडी द्वारा भारत में AQIS संगठन में सदस्यों की भर्ती और उन्हें रेडिक्लाइज करने का कार्य किया जा रहा है.

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि इसी के अन्तर्गत उमर हलमंडी ने कुछ जेहादी प्रवृत्ति के व्यक्तियों को लखनऊ में चिन्हित एवं नियुक्त कर अलकायदा के मॉड्यूल को खड़ा किया है. यह मॉड्यूल अंसार गजवतुल हिंद (AGH) जो अलकायदा का ही अंग है, के अन्तर्गत आतंकी घटनाओं को अंजाम देने के लिये तैयार किया गया है. उक्त अलकायदा मॉड्यूल के प्रमुख सदस्यों में मिनहाज, मसीरुद्दीन व शकील का नाम प्रकाश आया है.

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि इन लोगों ने उमर हलमंडी के निर्देश पर अपने अन्य सहयोगियों की सहायता से 15 अगस्त के पूर्व उत्तर प्रदेश के विभिन्न शहरों विशेषकर लखनऊ में महत्वपूर्ण स्थानों, स्मारकों, भीड़-भाड़ वाले इलाकों में विस्फोट करने, मानव बम आदि के द्वारा आतंकवादी घटना कारित करने की तैयारी कर रहे थे. इसके लिये इनके द्वारा शस्त्र, विस्फोटक आदि एकत्र किया गया है.

आतंकियों के पकड़े जाने के बाद प्रदेश के कई जिलों में अलर्ट जारी कर दिया गया है. लखनऊ कमिश्नरेट इलाके के साथ-साथ हरदोई, सीतापुर, बाराबंकी, उन्नाव एवं रायबरेली के अलावा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई जिलों में भी अलर्ट जारी किया गया है.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News