Saturday, September 18, 2021
Homeराजनीतिलोकतंत्र का बचाने के लिए इस बार बूथ स्तर तक होगी लड़ाई:...

लोकतंत्र का बचाने के लिए इस बार बूथ स्तर तक होगी लड़ाई: अखिलेश

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव एक बार फिर सरकार पर हमला बोला है, उन्होंने कहा है कि भ्रष्टाचार, महंगाई से जनता की कमर टूट गई है, भाजपा के अन्याय के शिकार सभी हैं. इस बार आगामी विधान सभा चुनाव 2022 में समाजवादी पार्टी बूथ स्तर तक लड़ाई करेगी.

ईमानदार और निड़र पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें

लखनऊ ।  समाजवादी पार्टी की तरफ से जारी बयान में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा के अन्याय के शिकार सभी हैं. भ्रष्टाचार, महंगाई से जनता की कमर टूट गई है. समाजवादी पार्टी जनाकांक्षाओं की पूर्ति के लिए प्रतिबद्ध है. भाजपा के वोट से समाजवादी पार्टी का वोट ज्यादा है. जनता का भरोसा भी सपा पर है. लोकतंत्र का बचाने के लिए इस बार बूथ स्तर तक लड़ाई होगी.

इस बार बूथ स्तर तक होगी लड़ाई: अखिलेश

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने सबसे ज्यादा धोखा किसानों और नौजवानों को दिया है. किसानों से किए सभी वादे-वादे ही रह गए. गन्ना किसान अभी तक मारा-मारा फिर रहा है. नौजवान के पास रोजगार नहीं है. उसकी नौकरियां छिन गई हैं. महिलाओं का मान-सम्मान सुरक्षित नहीं है. प्रदेश में अपराध बढ़े हैं.

प्रदेश सरकार की विफलता तब चरम पर दिखाई दी जब कोरोना महामारी ने प्रदेश को अपनी गिरफ्त में रख छोड़ा था. भाजपा सरकार के कुप्रबंधन के कारण बड़ी तादाद मे चिकित्सा सुविधाओं से वंचित लोग अपनी जान गंवा बैठे. ऑक्सीजन और दवाओं की कालाबाजारी के चलते किसानों की सांसे थम गईं. भाजपा की अमानवीयता और संवेदनहीनता का इससे बड़ा प्रमाण और क्या होगा कि वह कोरोना के संक्रमण से हुई मौतों को ही नकार रही है. मृतकों के आश्रितों को सरकारी उपेक्षा के चलते न मृत्यु प्रमाणपत्र मिल रहा है न ही आर्थिक मदद मिल रही है. 

इस बार बूथ स्तर तक होगी लड़ाई: अखिलेश

इस बार बूथ स्तर तक होगी लड़ाई- अखिलेश

उन्होंने कहा कि वर्तमान भाजपा सरकार द्वारा संविधान की मूल भावना के साथ खिलवाड़ हो रहा है, आरक्षण समाप्त किया जा रहा है. पिछड़े, दलित, आदिवासी और महिलाओं के अधिकार समाप्त किये जा रहे हैं. वर्तमान सरकार पिछड़ों की अनदेखी कर रही है. भाजपा-आरएसएस दोनों नफरत की राजनीति चला रहे हैं. समाज को बांटने का जहर फैला रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस बार के विधान सभा चुनाव में लोकतंत्र का बचाने के लिए बूथ स्तर तक लड़ाई होगी.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News