Friday, September 17, 2021
Homeब्रेकिंगबंगाल में बीजेपी कार्यकर्ता के पत्नी के साथ गैंगरेप, टीएमसी पर लगा...

बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ता के पत्नी के साथ गैंगरेप, टीएमसी पर लगा आरोप, 2 लोग गिरफ्तार

गिरफ्तार किए गए आरोपियों को आज उलुबेरिया सब डिवीजन कोर्ट में पेश किया गया जिसके बाद आरोपियों को पुलिस हिरासत में भेज दिया गया. इस मामले में पुलिस टीएमसी के दो और नेताओं से पूछताछ करने में जुटी है और गैंगरेप में शामिल तीन लोगों की तलाश जारी है.

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया. यहां एक भाजपा कार्यकर्ता ने पुलिस के पास अपनी पत्नी के साथ दुष्कर्म होने की शिकायत दर्ज कराई. कार्यकर्ता ने तृणमूल कांग्रेस के स्थानीय नेताओं पर आरोप लगाया कि उन्होंने उसकी मूक पत्नी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. शिकायत के आधार पर पुलिस ने दो नामजद लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. घटना सामने आने के बाद टीएमसी ने कहा कि वह पीड़िता के साथ है और दोषियों को सजा देने की मांग की. यह घटना अमता विधानसभा भेत्र के बागनान की है.

शिकायत दर्ज कराते हुए पीड़िता के पति ने कहा कि मेरी पत्नी को कुछ महीने पहले स्ट्रोक आया था इस वजह से वह बोल नहीं पाती. उसकी पत्नी ने उसे बताया कि पांच लोग थे जिन्होंने उसके साथ दुष्कर्म किया. आरोप है कि महिला को बांध कर उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया. पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया जबकि इसमे शामिल तीन लोगो अभी फरार चल रहे हैं. पुलिस उनकी तलाश में जुटी हुई है.

रात साढ़े 12 बजे घर में घुसे आरोपी

शिकायत के अनुसार पीड़िता शनिवार की रात को घर पर अकेली थी और पति कुछ काम से कोलकाता गया हुआ था. रात साढ़े बारह बजे टीएमसी ब्लॉक अध्यक्ष कुतुबुद्दीन मलिक और टीएमसी यूथ अध्यक्ष देवाशीष राणा अन्य तीन लोगों के साथ बीजेपी कार्यकर्ता के घर पहुंचते हैं. वह बाहर से पीड़िता का नाम बुलाते हैं तो उसे लगता है कि पति वापस आ गया. उसने दरवाजा खोल दिया. इसके बाद पांच लोग अंदर आ जाते हैं और कार्यकर्ता की पत्नी को बांध कर दुष्कर्म करते हैं. घटना के बाद पीड़िता बेहोश हो जाती है. दूसरे दिन जब पति घऱ लौटता है तो उसे घटना की जानकारी मिलती है. बाद में महिला को इलाज के लिए उलुबेरिया हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया.

विपक्ष में होने की वजह से हुआ उत्पीड़न

गिरफ्तार किए गए आरोपियों को आज उलुबेरिया सब डिवीजन कोर्ट में पेश किया गया जिसके बाद आरोपियों को पुलिस हिरासत में भेज दिया गया. इस मामले में पुलिस टीएमसी के दो और नेताओं से पूछताछ करने में जुटी है और गैंगरेप में शामिल तीन लोगों की तलाश जारी है. भाजपा कार्यकर्ता ने कहा कि इस घटना को बदले की भावना से अंजाम दिया गया है. उसने कहा कि मैं विपक्ष में हूं इसलिए मेरी पत्नी का उत्पीड़न किया गया.

कानून व्यवस्था को लेकर बीजेपी ने साधा निशाना

वहीं बीजेपी ने प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर सरकार पर निशाना साधा है. भाजपा के वरिष्ठ नेता और पश्चिम बंगाल के पार्टी के सह-प्रभारी अमित मालवीय ने एक ट्विटर पोस्ट में आरोप लगाया कि, “स्थानीय पुलिस ने शुरू में उसकी शिकायत दर्ज करने से इनकार कर दिया और मामले को हल्का करना चाहती थी. टीएमसी विरोधियों को चुप कराने के लिए बलात्कार को एक राजनीतिक उपकरण के रूप में इस्तेमाल कर रही है.”

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News