Friday, September 17, 2021
Homeसोनभद्रनिर्धारित समय-सीमा के भीतर लक्ष्यों को पूरा करें सम्बन्धित विभाग-मुस्तफा

निर्धारित समय-सीमा के भीतर लक्ष्यों को पूरा करें सम्बन्धित विभाग-मुस्तफा

ईमानदार और निड़र पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें

सोनभद्र । अभी कोरोना का संक्रमण टला नहीं है, लिहाजा पूरी होशियारी के साथ संक्रमण से बचाव करते हुए कार्य करें। उन्होंने कहा कि सामाजिक दूरी, फेसकवर/मास्क का प्रयोग व बार-बार साबुन पानी से हाथ धोने की अपील करते हुए कहा कि संक्रमण से बचाव होशियारी है, लिहाजा बचाव करते हुए आवश्यक सुविधाएं प्रदान की जाय। उक्त बातें शासन द्वारा नामित नोडल अधिकारी, सोनभद्र श्री मोहम्मद मुस्तफा श्रम आयुक्त उत्तर प्रदेश ने सोनभद्र जिले के दौरे के दौरान कही।

उन्होंने इस बीच विकास कार्यक्रमों, जनकल्याणकारी योजनाओं व लाभार्थीपरक कार्यों की सोनभद्र जिले के सर्किट हाउस में विस्तार से समीक्षा की। नोडल अधिकारी सोनभद्र श्री मोहम्मद मुस्तफा श्रम आयुक्त उत्तर प्रदेश ने
निराश्रित गोवंश आश्रय स्थलों में रह रहे गोवंशों की बेहतर व्यवस्था बनाये रखने के निर्देश दियें।

उन्होंने आयुष्मान भारत, कोविड-19 से बचाव सम्बन्धी वैक्सिनेशन, संभावित डेंगू से बचाव हेतु डीडीटी का छिड़काव, शहरी व ग्रामीण इलाकों में साफ-सफाई व साफ-सफाई यानी संचारी रोगों से बचाव सम्बन्धी जन जागरूकता, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा-निःशुल्क खाद्यान्न वितरण, मूल्य समर्थन योजना के तहत खरीदे गये खाद्यान्नों के भुगतान, सार्वजनिक शौचालयों के निर्माण, प्रधानमंत्री आवास योजना-शहरी व ग्रामीण, मुख्यमंत्री आवास योजना-शहरी व ग्रामीण, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, पेयजल योजनाएं, ओडीआर-एमडीआर-राज्य मार्ग अनुरक्षण ।

नये सड़कों का निर्माण, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, सामाजिक पेंशन, कन्या सुमंगला योजना, पोषण अभियान, शिक्षा की गुणवत्ता, परिषदीय स्कूलों में बच्चों का नामांकन, ट्रान्सफार्मरों का अधिष्ठान, विद्युत आपूर्ति, विद्युत बिल से सम्बन्धित जन समस्याओं का निस्तारण, नहरों का संचालन, राजस्व वादों का निस्तारण, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, एक जनपद-एक उत्पाद व 50 लाख से अधिक लागत की लम्बित परियोजनाओं/सड़कों की समीक्षा करते हुए राज्य सरकार द्वारा निर्धारित समय-सीमा के अन्तर्गत लक्ष्यों को पूरा करने के निर्देश सम्बन्धितों को दियें।


समीक्षा के दौरान उन्होंने जिले के सभी अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे अपने-अपने नगर निकायों के कम से कम पांच-पांच वार्डों का स्थलीय निरीक्षण करके 24 घंटे के अन्दर साफ-सफाई, जल जमाव, बिजली, पानी आदि की सुस्पष्ट रिपोर्ट जिलाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी ग्रामीण इलाकों के साथ ही शहरी इलाकों में साफ-सफाई आदि की व्यवस्था बेहतर बनायी रखी जाय।

उन्होंने कार्यदायी संस्थाओं जैसे- लोक निर्माण विभाग, ग्रामीण अभियंत्रण विभाग, पैकफेड, जल निगम, आवास-विकास, सेतु निर्माण निगम, राष्ट्रीय निर्माण निगम को दायित्वबोध कराते हुए कहा कि जिनको बजट प्राप्त हो गया है, बिना किसी लेट-लतीफ के कार्य को पूरा करें और रिवाइज स्टीमेट के चक्कर में न पड़ें।

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News