Wednesday, September 22, 2021
Homeराजनीतिधर्म के नाम पर वोट, मंदिर के लिए नोट ,जब सरकार बनी...

धर्म के नाम पर वोट, मंदिर के लिए नोट ,जब सरकार बनी तो गिन- गिन कर दिया चोट -सतीश चंद्र मिश्र

सतीश चंद्र मिश्रा के आगमन पर हुआ शंखनाद,मंत्रोच्चारण । परशुराम का हुआ जयघोष।अविनाश शुक्ला ने भेंट की गदा


सोनभद्र। विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारी में लगी बहुजन समाज पार्टी द्वारा ब्राह्मण मतदाताओं को अपने पार्टी में जोड़ने के लिए पार्टी के ब्राह्मण चेहरा बन चुके राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा की अगुवाई में पूरे प्रदेश में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है ।उसी कड़ी में आज सोनभद्र के रामलीला मैदान पर आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में सतीश मिश्रा का आगमन हुआ।सम्मेलन में आये ब्राह्मण समाज को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार जब से आई है ब्राह्मण समाज को प्रताड़ित किया जा रहा है।कहीं उनकी हत्या की जा रही है तो कहीं हमारे समाज की बहू बेटियों की इज्ज़त पर हमला बोला जा रहा है।सतीश चंद्र मिश्रा ने ब्राह्मण समाज को संबोधित करते हुए कहा कि ब्राह्मण समाज की जनसंख्या प्रदेश में लगभग 16 प्रतिशत से अधिक है परन्तु हम कभी धर्म के नाम पर तो कभी किसी अन्य नाम पर वोट देकर जिन्हें चुनाव में विजयी बनाते रहे वही लोग ब्राह्मण का अनादर भी करते रहे।उन्होंने कहा कि जब तक हम लोग संगठित नहीं होंगे तब तक हमारी दुर्गति इसी तरह होती रहेगी।

उन्होंने कहा भाजपा के लोग पहले ब्राह्मण समाज से धर्म के नाम पर वोट लिया फिर मंदिर के नाम पर नोट लिया और जब सरकार बनी तो चुन चुन कर ब्राह्मणों को चोट भी दिया। उन्होंने प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में आये हुए बुद्धजीवी ब्राह्मणों को आगाह करते हुए कहा कि ऐसा नहीं है कि केवल भाजपा ने ही ब्राह्मण समाज के स्वाभिमान व सम्मान को धूल धूसरित किया है अपितु समाजवादी पार्टी के सरकार में भी ब्राह्मण समाज की कम दुर्गति नहीं हुई है।सपा की सरकार में भी एक धर्म व एक जाति विशेष का ही ध्यान रखा जाता है,इसलिए प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन के जरिए आप यह संकल्प लें कि आने वाले समय मे संगठित होकर बहुजन समाज पार्टी की सरकार बनाने के लिए हम सब एक जुट होकर आने वाले विधानसभा चुनाव2022 में वोट करेंगे।

सतीश चंद्र मिश्रा ने ब्राह्मण समाज को संबोधित करते हुए कहा कि जब वर्ष 2007 में ब्राह्मण समाज ने संगठित होकर बहन जी की सरकार बनाने में योगदान दिया था तो सरकार बनने के बाद बहन मायावती ने भी ब्राह्मण समाज का मान सम्मान बढ़ाते हुए लगभग 15 से अधिक ब्राह्मण कैबिनेट मंत्री,35 के लगभग विभिन्न अधिष्ठानों के ब्राह्मण चेयरमैन,चीफ सेक्रेटरी व डीजीपी सहित विधानसभा अध्यक्ष का पद भी ब्राह्मण को देकर सम्मानित किया था। प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में आये हुए ब्राह्मणों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि यह वर्ष तो चुनावों का है सभी पार्टी के लोग आपका वोट मांगने आएंगे आपको विभिन्न प्रकार के प्रलोभन देकर वोट मांगेगे, लेकिन आप प्रबुद्ध वर्ग के लोग हैं अपने मान सम्मान की सुरक्षा को देखते हुए जांच परख कर ही वोट करें।

आज के प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन के संयोजक गुड्डू मिश्रा तथा संचालन की जिम्मेदारी बहुजन समाज पार्टी के ब्राह्मण भाई चारा के जिलाध्यक्ष अशोक चौबे व सम्मेलन की अध्यक्षता पूर्व ब्लाक प्रमुख कमला कांत पांडेय ने किया।सम्मेलन में प्रमुख रूप से नंदलाल पांडेय, लालजी मिश्रा बृजेश पांडेय, पूर्व विधायक सत्यनारायण जैसल,पूर्व सांसद नरेन्द्र कुशवाहा, भगवान पांडेय, अविनाश शुक्ल, गुड्डू रंगीला, राजकुमार रत्ना सहित सैकड़ो की संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News