Wednesday, September 22, 2021
Homeब्रेकिंगजम्मू पुलिस ने राम मंदिर को उड़ाने की साजिश रच रहे 4...

जम्मू पुलिस ने राम मंदिर को उड़ाने की साजिश रच रहे 4 संदिग्ध आतंकियों को दबोचा

चारों संदिग्ध जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन से जुड़े हुए हैं. जिनमें से एक शामली जनपद के कस्बा कांधला का रहने वाला है. कांधला के रहनेवाले का नाम इजहार पुत्र इंतजार बताया जा रहा है. पुलिस के अनुसार पकड़े गए आतंकी राम मंदिर को उड़ाने की साजिश रच रहे थे .

ईमानदार पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें

शामली । जम्मू-कश्मीर पुलिस ने 4 संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया है. पकड़े गए चारों आतंकियों पर राम मंदिर को उड़ाने की साजिश रचने का आरोप है. बताया जा रहा है कि चारों संदिग्ध जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन से जुड़े हुए हैं. जिनमें से एक शामली जनपद के कस्बा कांधला का रहने वाला है. कांधला के रहनेवाले का नाम इजहार पुत्र इंतजार बताया जा रहा है. इजहार जम्मू-कश्मीर में सेब का व्यापार करता है और पिछले काफी समय से जम्मू से फल सप्लाई कर रहा था.

परिजनों के मुताबिक इजहार को जम्मू पुलिस ने 21 जुलाई को हिरासत में लिया था. गिरफ्तारी के वक्त जम्मू पुलिस ने कहा था कि कुछ पूछताछ करनी है. लेकिन अभी तक इजहार को नहीं छोड़ा गया है. इजहार पर अपने साथियों के साथ राम मंदिर उड़ाने की साजिश रचने का आरोप है. हालांकि यह साजिश जम्मू-कश्मीर पुलिस ने नाकाम कर दी है और चार संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया है.

जम्मू कश्मीर पुलिस ने कांधला पुलिस के सहयोग से संदिग्ध आतंकी इजहार को कांधला क्षेत्र से 21 जुलाई को गिरफ्तार कर लिया था. बाद में पुलिस उसे अपने साथ जम्मू ले गई थी. परिजनों के मुताबिक उस दिन इजहार अपनी कार के चालान का भुगतान करने के लिए शामली आ रहा था. लेकिन जम्मू-कश्मीर पुलिस ने कांधला पुलिस की मदद से उसे हिरासत में ले लिया.

चारों आतंकियों से पुलिस पूछताछ कर रही है और इस पूरे मामले की जांच-पड़ताल कर रही है. इजहार को परिजनों ने निर्दोष बताया है और कहा है कि इजहार समेत 7 भाई हैं और सभी मेहनत मजदूरी का काम करते हैं. परिजनों का कहना है कि उनको बेवजह फंसाया जा रहा है. उनके परिवार में ऐसा कोई नहीं है, जो आतंकी गतिविधियों में संलिप्त रहा हो.

फिलहाल परिजनों ने इस पूरे मामले कि निष्पक्ष तरीके से जांच की मांग की है. परिजनों का कहना है कि इजहार बेहद ही शरीफ युवक है और आज तक उसके विरुद्ध किसी तरह का आपराधिक मुकदमा दर्ज नहीं है. लेकिन जिस तरह से उसको आतंकवादी बताया जा रहा है, यह बिल्कुल सही नहीं है.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News