Saturday, September 18, 2021
Homeसोनभद्रचोपन पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, सनसनीखेज हत्या के शूटर पुलिस की...

चोपन पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, सनसनीखेज हत्या के शूटर पुलिस की गिरफ्त में

शिकारी खुद हो गया शिकार की तर्ज पर जिसने हत्या की सुपारी दी, सुपारी किलरों ने उसी की हत्या कर दी

सोनभद्र।पिछले सप्ताह चोपन थानान्तर्गत सिन्दुरीया जाने वाले मार्ग के किनारे सिन्दुरीया निवासी सुरेन्द्र पाण्डेय की हुई हत्या की सनसनीखेज घटना की सूचना पर पुलिस के उच्चाधिकारीगण सहित थाना प्रभारी नवीन तिवारी मौके पर पहुचे। थाना प्रभारी द्वारा अग्रिम विधिक कार्यवाही करते हुए मृतक के बहन की सूचना पर थाना चोपन में मु 0 अ 0 सं 0 219/2021 धारा 302/34 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया गया । घटना के अनावरण व अभियुक्तो की गिरफ्तारी हेतु पुलिस अधीक्षक द्वारा अपर पुलिस अधीक्षक ( मुख्या ० ) तथा क्षेत्राधिकारी नगर को विशेष निर्देश दिये गये । क्षेत्राधिकारी नगर के पर्यवेक्षण में अपराध शाखा की स्वाट / एसओजी / सर्विलांस टीम व प्रभारी निरीक्षक थाना चोपन के साथ संयुक्त टीम का गठन किया गया ।

इस टीम द्वारा अथक परिश्रम से आसूचना संजाल तैयार किया गया , इसी क्रम में स्वाट / एसओजी / सर्विलांस टीम व थाना चोपन पुलिस द्वारा मुखबीर खास की सूचना पर हिन्दुआरी तिराहे के पास से शुटरों को पकड़ लिया गया तथा अभियुक्तो की निशानदेही पर मृतक का मोबाइल फोन, मृतक द्वारा हस्ताक्षरित भारतीय स्टेट बैंक का चेक व मृतक की हीरो सुपर स्पेण्डर मोटर सायकिल तथा आलाकत्ल 12 बोर का कट्टा बरामद किया गया ।

पुछताछ करने पर अभियुक्तों द्वारा बताया गया कि मृतक सुरेन्द्र अपनी पत्नी की हत्या कराना चाहता था जिसके लिए उसने करीब दो माह पहले चन्दन तिवारी के मध्यम से इन शुटरो से सम्पर्क किया। जिसमें हत्या के लिए दो लाख की सुपारी तय हुयी । शुटरो द्वारा घटना को अंजाम देने से पहले रूपये की मांग की गयी तब मृतक सुरेन्द्र द्वारा इन्हे बार बार रुपये के लिए टरकाया जाने लगा,बाद में सुरेंद्र द्वारा अपनी ही पत्नी की हत्या के लिए हायर किये गए शूटरों को अपने एकाउंट से भारतीय स्टेट बैंक के अपने खाते के बैलेंस व अपना हस्ताक्षरित चेक दिखया गया। सुरेंद्र के इस तरह तय किये गए रकम देने में हीला हवाली को लेकर इनके मन में शंका उत्पन्न हुयी की कही मृतक हत्या हो जाने के उपरान्त उन्हे पैसे देगा या नहीं ? इसलिए इन लोगों के मन मे आया कि चूंकि पत्नी की हत्या करने में खतरा भी अधिक है क्योंकि वह जहाँ रहती है वह भीड़ भाड़ भरा इलाका है,इससे अच्छा है की पत्नी की हत्या करने से अच्छा है कि सुरेन्द्र की ही हत्या कर वह चेक ले लिया जाये ,इसमें खतरा भी कम है।

घटना के दिन मृतक स्वंय अपनी पत्नी की हत्या कराने के उद्देश्य से शूटर योगेश व पंकज को लेकर चोपन आया तथा फिर अपने घर ले जाकर हत्या के लिए तमंचा व कारतुस दिये । जब ये तीनो चोपन वापस आ रहे थे तो रास्ते में सुरेन्द्र किसी से मोबाइल पर बात करने लगा तब इनके द्वारा उसकी हत्या कर दी गयी।पुलिस की गिरफ्त में आये हुए शूटरों में योगेश कुमार मिश्रा पुत्र विजय कुमार मिश्रा निवासी मुसहीं थाना राबर्ट्सगंज,पंकज कुमार बघेल पुत्र विनोद कुमार बघेल निवासी सहिजन खुर्द थाना राबर्ट्सगंज व चंदन तिवारी पुत्र वीरेंद्र तिवारी निवासी कुरहुल थाना चोपन का है तथा एक अभ्युक्त शिव शंकर कन्नौजिया पुत्र गुलाब निवासी मुसहीं का रहने वाला है अभी फरार है जिसको जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।पुलिस अधीक्षक ने इस सनसनीखेज हत्या मामले के सफल अनावरण में लगी पुलिस टीम को नगद पुरस्कार देने की भी घोषणा की है।

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News