Saturday, September 18, 2021
Homeअंतर्राष्ट्रीयकाबुल हवाईअड्डा खाेला गया, अमेरिका ने उतारे सैनिक

काबुल हवाईअड्डा खाेला गया, अमेरिका ने उतारे सैनिक

अफगानिस्तान में तालिबान के शासन के डर से भाग रहे लाेगाें की अफरा-तफरी काे लेकर बंद किए गए काबुल हवाईअड्डे काे फिर से खाेल दिया गया है.

ईमानदार पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें

वाशिंगटन : अफगानिस्तान के काबुल हवाई अड्डे को फिर से खोल दिया गया है. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. उड़ानाें के आवाजाही के लिए हवाई क्षेत्र को फिर से खोल दिया गया. अमेरिकी सैनिकाें काे लेकर पहुंचा पहला विमान सी -17 (first C-17) लैंड कर चुका है. वहीं अगले C-17 भी उतरने की तैयारी में है.

यूएस मेजर जनरल हैंक टेलर ने वाशिंगटन में एक प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि हमारे सैनिक प्रशिक्षित हैं. उनका काम हवाईअड्डे को सुरक्षा प्रदान करना है ताकि जोखिम में पड़े अमेरिकी नागरिकों, एसआईवी और अफगानों को देश से बाहर निकालने में मदद कर सकें.

पिछले दो दिनों में काबुल हवाई अड्डे पर कम से कम 10 लोग मारे गए और कई घायल हो गए क्योंकि तालिबान द्वारा काबुल पर कब्जा करने के तुरंत बाद देश से भागने की कोशिश में हजारों लोगों ने उड़ानें पकड़ने की कोशिश की.

रविवार को इस आतंकी समूह ने काबुल पर कब्जा कर लिया. अफगानिस्तान में तालिबान के शासन के डर से युद्धग्रस्त देश से निकलने की कोशिश कर रहे सैकड़ों लोग सोमवार को काबुल हवाईअड्डे पर जमा हो गये, जहां अफरा-तफरी मचने से अब तक 10 लोगों की मौत हो गई. अधिकारियों का मानना ​​है कि लोगों को हवाई अड्डे पर उड़ानों की उपलब्धता के बारे में गलत सूचना दी गई थी.

अमेरिका समर्थित अफगान सरकार के गिरने और राष्ट्रपति अशरफ गनी के देश छोड़ कर जाने के बाद तालिबान लड़ाकों के रविवार को काबुल में प्रवेश करने के साथ दो दशक लंबा वह अभियान खत्म हो गया, जिसके तहत अमेरिका और उसके सहयोगी देशों ने युद्धग्रस्त देश में बदलाव लाने की कोशिश की थी.

एक स्थानीय समाचार एजेंसी द्वारा पोस्ट की गई वीडियो क्लिप के मुताबिक तीन अफगान नागरिक आसमान से नीचे गिर गये. दरअसल, वे अफगानिस्तान में तालिबान के शासन से भागने की कोशिश करते हुए अमेरिकी वायुसेना के एक विमान से बाहर से लटक गये थे.

अफगान अस्वाका समाचार एजेंसी ने इस दर्दनाक घटना की क्लिप पोस्ट करते हुए ट्वीट किया, ‘काबुल हवाईअड्डे से उड़ान भरने वाले विमान के पहियों से लिपटे तीन लोगों के शव काबुल के खैरकाहना इलाके के पास जमीन पर गिरे.

टीवी चैनलों द्वारा प्रसारित और सोशल मीडिया पर साझा किये गये वीडियो में यह भी देखा जा सकता है कि काबुल हवाईअड्डे के प्रवेश द्वार पर और हवाईअड्डे के अंदर भी लोगों की जबरदस्त भीड़ थी, जहां वे रविवार रात और सोमवार सुबह विमान में सवार होने की कोशिश करते दिख रहे हैं.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News