Thursday, September 23, 2021
Homeराज्यउत्तर प्रदेश में 2022 में किसी भी दल की बने सरकार , प्रसपा...

उत्तर प्रदेश में 2022 में किसी भी दल की बने सरकार , प्रसपा सरकार मे होगी शामिल : शिवपाल यादव

शिवपाल ने कहा कि प्रदेश की योगी सरकार ने पिछले 5 साल में उत्तर प्रदेश को सबसे पीछे 25वें स्थान पर लाकर खड़ा कर दिया है. मात्र बिहार का नंबर इसके बाद आता है. इस देश में केवल दो ही पूंजीपतियों को फायदा मिला है. किसान परेशान हैं.

ईमानदार पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें

इटावा ।  प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने दावा किया है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा में 2022 में किसी भी दल की सरकार बने. उनकी पार्टी सरकार मे शामिल होगी. प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह अपने निर्वाचन क्षेत्र जसंवतनगर मे स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लोहिया संदेश यात्रा का शुभारंभ करने के अवसर पर बोल रहे थे. उन्होने कहा कि जिस दल में वो होंगे उसी दल की यूपी विधानसभा 2022 मे सरकार बनेगी. आज उत्तर प्रदेश की ऐसी ही स्थिति है, हमारा संगठन बहुत मजबूत है.

शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि 2022 में अगर हमारी उत्तर प्रदेश में सरकार बनती है तो किसानों और मुसलमानों को पूरा सम्मान मिलेगा. किसी के साथ धर्म जाति से कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा. किसान सरकार के द्वारा पास किए गए काले कानून का विरोध कर रहा है. लेकिन, सरकार किसानों की समस्याओं को नहीं सुन रही है. जिसको लेकर किसान भी महीनों से धरने पर बैठे हैं.

सरकार को किसानों की बात सुनना चाहिए क्योंकि किसान ही अन्नदाता है. इटावा में जिला कोआपरेटिव बैंक मे झंडारोहण करने के बाद शिवपाल सिंह ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि जब से भाजपा सत्ता में आई है, तब से जनता काफी परेशान हैं. देश में लगातार पेट्रोल, डीजल और बिजली के दाम बढ़ते जा रहे हैं. सरकार इस ओर ध्यान नहीं दे रही है.

5 साल में पूंजीपतियों को फायदा : शिवपाल

प्रसपा के अध्यक्ष ने आगे कहा कि इन पांच सालों में किसको फायदा हुआ, केवल दो ही पूंजीपतियों को बहुता फायदा हुआ. अब बहुत से लोगों को भिखारी बनाया गया है, जबकि रोजगार देना चाहिए था. शिवपाल ने कहा कि जिस तरह से प्रदेश सरकार ने पिछले 5 साल में उत्तर प्रदेश को सबसे पीछे 25वें स्थान पर लाकर खड़ा कर दिया है. मात्र बिहार ही इसके बाद प्रदेश है. इस देश में केवल दो ही पूंजीपतियों को फायदा मिला है.

किसान परेशान हैं. किसान अपनी फसल बचाने के लिए यदि टिल्लू से अपने खेत की सिंचाई करने लगता है तो उस पर अधिकारी मुकदमा लिखवा देते हैं. उन्होने कहा कि बाढ़ पीड़ितों और बाढ़ के क्षेत्र में अधिकारी केवल देख कर चले आते हैं. किसी तरह की कोई भी सुविधाएं और राहत नहीं पहुंचाई जा रही है, ऐसे अधिकारियों को दंडित करना चाहिए ।

जसवंत नगर सीट पर पार्टी प्रत्याशी घोषित 

जसवंतनगर की सीट पर प्रत्याशी समय आने पर घोषित कर दिया जाएगा. उत्तर प्रदेश के सभी कार्यकर्ता तैयारी करें जो जीतने की स्थिति में होगा वही चुनाव लड़ेगा. यह कोई पहला मौका नही है इससे पहले भी शिवपाल सिंह यादव 31 जुलाई को कुछ इसी तरह का भी बयान दे चुके है. शिवपाल सिंह ने अपने दल पीएसपी ने इटावा सदर से पूर्व सांसद रघुराज सिंह शाक्य और भरथना से पूर्व मंत्री गया प्रसाद वर्मा के बेटे सुशांत वर्मा का टिकट भी घोषित भी कर चुके है. दोनों उम्मीदवारों ने अपना अपना प्रचार भी शुरू कर दिया है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को तो शिवपाल सिंह यादव कई दफा ईमानदार बता चुके है, लेकिन नौकरशाही मे व्यापक भ्रष्टाचार चरम पर सरकार को घेरने मे कोई कसर नहीं चूकते हैं. उन्होने कहा कि 2022 मे सरकार बनने के बाद प्रत्येक घर से एक बेटा और बेटी को नौकरी दिलाएंगे. इसके अलावा बिजली बिल माफ करके ढाई सौ यूनिट बिजली फ्री दिलाई जाएगी.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News