Saturday, September 18, 2021
Homeराज्यआशिक मिजाज दरोगा को ग्रामीणों ने पकड़ा , फिर बांध कर की...

आशिक मिजाज दरोगा को ग्रामीणों ने पकड़ा , फिर बांध कर की पिटाई

बस्ती के एसपी आशीष श्रीवस्तव ने बताया कि एसआई पर ग्रामीणों ने फायरिंग और चरित्र पर आरोप लगाया है. दरोगा बिना वर्दी में गांव में गया था. एसआई को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है.

ईमानदार और निड़र पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें

बस्ती ।  उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले के दुबौलिया थाना के ऊंजी गांव में एक आशिक मिज़ाज दरोगा अशोक कुमार चतुर्वेदी की ग्रामीणों ने उस वक्त पिटाई कर दी, जब वो गांव में अपनी प्रेमिका से रंगरेलिया मना रहा था. भीड़ यहीं नहीं रुकी. दरोगा को खंभे से बांध का जमकर पीटा, इसके बाद सूचना पुलिस को दी गई. पुलिस मौके पर पहुंची और अपने दरोगा की किसी तरह बचा कर थाने ले गई.

दरअसल ग्रामीणों को काफी दिन से इस आशिक मिज़ाज दरोगा की तलाश थी. आरोप है कि गांव में रात में वो अक्सर अपनी प्रेमिका से मिलने जाता था. बीती रात दरोगा अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर गया और अपनी बाइक प्राइमरी स्कूल के पास खड़ी की. इसके बाद वह एक युवती के घर में घुस गया. ग्रामीणों को जब शक हुआ तो उन्होंने दरोगा को रंगे हाथों पकड़ने के लिए घर के बाहर बैठे रहे. जब दरोगा रात को 3 बजे घर से बाहर निकला तो ग्रामीणों ने उसे पकड़ लिया.

ग्रामीणों का आरोप है कि खुद को घिरा देख दरोगा ने सरकारी रिवाल्वर से हवा में फायर कर दिया. फायरिंग की आवाज पर बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंच गए. इस दौरान पहले दरोगा को जम कर पीटा, उसके बार रस्सी से खंभे में बढ़ कर पिटाई की. सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह दरोगा की जान बचाई. ग्रामीणों के चंगुल से छुड़ा कर थाने लाई.

घटना की सूचना के बाद एसपी आशीष श्रीवस्तव थाने पर पहुंचे. उन्होंने कहा कि एसआई पर ग्रामीणों ने फायरिंग और चरित्र पर आरोप लगाया है. दरोगा बिना वर्दी में गांव में गया था. एसआई को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News